Cryptocurrency News: रुस की केंद्रीय बैंक ने दिया बड़ा झटका, अब दिख रहा है क्रिप्टो करेंसी का फ्यूचर अंधकार में

क्रिप्टो करेंसी के बारे में सभी देशों में लगभग सवाल खड़े हो रहे है | वही Cryptocurrency के लिए रुस की केंद्रीय बैंक ने दिया बड़ा झटका | हर कोई देश वर्चुअल मुद्रा को बैन करने क प्रयाश कर रहा है वही भारत देश के अन्दर भी वर्चुअल क्रिप्टो करेंसी पर सवाल किये गए थे |

भारत के अन्दर भी भारत सरकार ने इस पर बिल लाने की तैयारी कर ली गयी थी जो इस संसद सत्र में बिल को पेश करने की बात कही गई थी जो किसी कारण वस इस वर्ष रुक गया है |

पहले भारत ने क्रिप्टो करेंसी पर रोक लगाने क प्रयाश किया था और उसके बाद अब रूस ने इस पर रोक लगाने क प्रयाश किया जा रहा है | गुरुवार को रूस के केंद्रीय बैंक ने अपने नागरिकों की भलाई और वित्तीय स्थिरता के खतरों क हवाला देते हुए रूस के अन्दर क्रिप्टो करेंसी पर बैन लगाने क प्रस्ताव रखा है |

Cryptocurrency Ban by Russian Bank

क्रिप्टो करेंसी के बारे में गुरुवार को रूस की केन्द्रीय बैंक ने कहा कि क्रिप्टो करेंसी बहुत तेजी से बढ़ रही है जिसमें यह वित्तीय स्थिरता को बढ़ा सकती है केंद्रीय बैंक ने कहा कि सभी सरकारी संस्थान cryptocurrency के लेन-देन पर रोक लगाने को कहा है |

रूस की केंद्रीय बैंक का उद्देश्य है कि क्रिप्टो करेंसी के सभी लेन देन को ब्लॉक किया जाना चाहिए और सभी तरह खरीदने और बेचने पर रोक लगनी चाहिए | केन्द्रीय बैंक ने कहा है कि रूस के अन्दर क्रिप्टो यूजर का वार्षिक लेन देन लगभग 5 बिलियन डॉलर है

रुस की केंद्रीय बैंक ने दिया बड़ा झटका
रुस की केंद्रीय बैंक ने दिया बड़ा झटका

Bitcoin खनन में दुनिया का तीसरा स्थान है रूस का

रुस का Bitcoin खनन में अमेरिका और कजाकिस्तान के बाद दुनियां में तीसरा खिलाडी है bitcoin और अन्य क्रिप्टो करेंसी माइनिंग में बहुत ही शक्तिशाली कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है जिसमें बिजली की खपत बहुत ज्यादा होती है इस कारण से बैंक ने कहा था कि सबसे अच्छा समाधान रूस के अन्दर क्रिप्टो करेंसी खनन पर प्रतिबंद लगाना है | 

चीन की ओर इंगित

केंद्रीय बैंक ने कहा कि देशों में नियामकों के साथ काम करेगा जहां क्रिप्टो एक्सचेंज पंजीकृत वहां ठीक तरीके से काम करेंगे | और पंजीकृत Exchange से रूसी ग्राहकों के संचालन के बारे में जानकारी एकत्र की जा सकती है । इसने क्रिप्टोक्यूरेंसी गतिविधि को रोकने के लिए चीन जैसे अन्य देशों में उठाए गए कदमों की ओर इशारा किया।

इन देशों में लगा क्रिप्टो पर बैन

चीन, बांग्लादेश, नेपाल, इंडोनेशिया, मिस्त्र, मोस्को, तुर्की, ईरान, बोलीविया, अल्जीरिया, कोलंबिया, मोरक्को, और कई अन्य देशों में क्रिप्टो करेंसी पर बैन लगा दिया है |

यह भी पढ़े :- भारत का पहला IC15 क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स हुआ लॉन्च देखें कौन सी क्रिप्टोकरेंसी है इसमें शामिल

Leave a Comment