Tata Group की ओर से बड़ा ऐलान, टाटा समूह करेगा देश में सेमीकंडक्टर का उत्पादन, जानिए विस्तार से

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आप टाटा ग्रुप के बारे में जानने वाले हैं, जिसने सेमीकंडक्टर के उत्पादन पर काम शुरू करने के लिए एक बड़ी घोषणा की है, तो आइए जानते हैं पूरी जानकारी।

Tata Group: टाटा ग्रुप ने सेमीकंडक्टर के मोर्चे पर बड़ा ऐलान किया है।  टाटा समूह की योजना है कि अगले कुछ वर्षों में वह देश में सेमीकंडक्टर्स का उत्पादन शुरू कर देगा।  टाटा संस के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन ने जापान के मुख्य बिजनेस न्यूज पेपर निक्केई एशिया को दिए एक इंटरव्यू में यह जानकारी दी है। 

Tata Group की ओर से बड़ा ऐलान, टाटा समूह करेगा देश में सेमीकंडक्टर का उत्पादन
Tata Group की ओर से बड़ा ऐलान, टाटा समूह करेगा देश में सेमीकंडक्टर का उत्पादन

बता दें कि टाटा ग्रुप देश में नमक से लेकर स्टील तक बनाता है, ऐसे में अगर टाटा ग्रुप सेमीकंडक्टर्स का उत्पादन शुरू करता है, तो देश को वैश्विक स्तर पर चिप्स की सप्लाई चेन का अहम हिस्सा बनने में काफी मदद मिल सकती है।  स्तर।  एन चंद्रशेखरन ने इंटरव्यू में बताया कि कंपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स जैसे क्षेत्रों में कुछ और नए कारोबार शुरू करने की योजना बना रही है।

Read Post : Adani की कंपनी ने कराई करोड़ों की कमाई, रिलायंस-टाटा के निवेशकों को तगड़ा झटका

सूत्रों के मुताबिक सेमीकंडक्टर्स का प्रोडक्शन टाटा ग्रुप जल्द ही करने जा रहा है और यह ऐलान टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने किया है. टाटा समूह की योजना के तहत सेमीकंडक्टर्स के उत्पादन को कुछ वर्षों में हरी झंडी देने का फैसला किया गया है। Tata Group के बारे में तो आप जानते ही होंगे, जो भारत की प्रसिद्ध कंपनियों में से एक है।

और यहाँ भारत में ये स्टील से लेकर नमक तक बनाती है और ये इम्पोर्ट और एक्सपोर्ट भी करती है। यदि टाटा समूह अगले कुछ वर्षों में सेमीकंडक्टर उत्पादन शुरू करता है, तो इसके लाभ वैश्विक लेबल को इसकी आपूर्ति करने में एक प्रमुख भूमिका निभाएंगे।

Read Post : Yes Bank के शेयर के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

और इससे देश को बहुत अधिक लाभ भी प्राप्त होगा। टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि टाटा समूह की कंपनी की योजना भविष्य में इलेक्ट्रिक कारों जैसे बड़े कारोबार को शुरू करने की भी है।

टाटा समूह अब बनाएगा सेमीकंडक्टर: चंद्रशेखरन टाटा इलेक्ट्रॉनिक द्वारा साक्षात्कार में, जो कि टाटा समूह की कंपनी है, अब सेमीकंडक्टर उत्पादन के रास्ते पर है और उन्होंने यह भी कहा कि वे बहुत जल्द सेमीकंडक्टर असेंबली का परीक्षण शुरू करेंगे

टाटा इलेक्ट्रॉनिक की स्थापना 2020 में टाटा समूह द्वारा इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के निर्माण के लिए की गई थी। कंपनी के चेयरमैन के मुताबिक, कंपनी की अलग-अलग इकाइयों से बातचीत चल रही है और संभव है कि आने वाले समय में कोई और कंपनी सेमीकंडक्टर्स बनाने के लिए टाटा समूह के साथ आ जाए।

इसके साथ ही एक अन्य इंटरव्यू में चंद्रशेखर ने बताया था कि कंपनी द्वारा अपस्ट्रीम चिप फैब्रिकेशन प्लेटफॉर्म लॉन्च करने की उम्मीद है। और इसके अलावा उन्होंने यह भी खुलासा किया कि सेमीकंडक्टर की मेरी फैक्टरिंग शुरू करने के लिए बहुत अधिक निवेश की आवश्यकता हो सकती है और उन्होंने यह भी बताया कि अगले 5 वर्षों में टाटा समूह 90 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकता है, जो कि 7.4 लाख करोड़ रुपये के आसपास योजना बनाई है।

यह भी पढ़ें :

Rate this post

Leave a Comment