Adani की कंपनी ने कराई करोड़ों की कमाई, रिलायंस-टाटा के निवेशकों को तगड़ा झटका

टॉप-10 फर्म्स मार्केट कैप: शेयर बाजार में गिरावट का दौर पिछले हफ्ते भी जारी रहा।  इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार मूल्य घटकर 17.65 लाख करोड़ रुपये रह गया, जबकि टीसीएस का बाजार मूल्य घटकर 12.04 लाख करोड़ रुपये रह गया।  इस बीच, अडानी एंटरप्राइजेज का एमकैप बढ़कर 4.55 लाख करोड़ रुपए हो गया।

Adani's company earned crores
Adani’s company earned crores


पिछला सप्ताह शेयर बाजार के लिए निराशाजनक साबित हुआ।  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 686.83 अंक या 1.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ।  बाजार में लगातार गिरावट के चलते बीएसई में लिस्टेड टॉप-10 कंपनियों में से पांच को भारी नुकसान हुआ है, जबकि 5 कंपनियों को फायदा हुआ है।  गौतम अडानी के नेतृत्व वाली अडानी एंटरप्राइजेज और हिंदुस्तान यूनिलीवर (एचयूएल) मुनाफा कमाने वाली कंपनियों में शामिल हैं।  वहीं, सबसे ज्यादा नुकसान रिलायंस और टीसीएस के शेयरहोल्डर्स को हुआ।

READ POST : Yes Bank के शेयर के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

पिछले हफ्ते सेंसेक्स की टॉप-10 कंपनियों में से पांच का बाजार पूंजीकरण 1,67,602.73 करोड़ रुपये कम हुआ।  पीटीआई के मुताबिक, इस गिरावट के बीच मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के शेयरधारक सबसे ज्यादा नुकसान में रहे।  रिलायंस के बाजार मूल्य में 76,821.01 करोड़ रुपए की भारी गिरावट आई और इसका एमकैप 17,65,173.47 करोड़ रुपए के स्तर पर आ गया।  अन्य कंपनियों की बात करें तो टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) का mcap 53,641.69 करोड़ रुपये घटकर 12,04,797.55 करोड़ रुपये रह गया, जिससे उनके निवेशकों को नुकसान हुआ है।

 इंफोसिस ने खूब कमाया मुनाफा : पिछले हफ्ते जिन पांच कंपनियों की वैल्यू घटी है, उनमें इंफोसिस और भारती एयरटेल भी शामिल हैं।  जहां इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 29,330.33 करोड़ रुपये घटकर 6,60,184.76 करोड़ रुपये रह गया, वहीं भारती एयरटेल का बाजार पूंजीकरण 7,705.08 करोड़ रुपये घटकर 4,64,529.84 करोड़ रुपये रह गया।  चला गया।  इस बीच, आईसीआईसीआई बैंक का बाजार मूल्य (आईसीआईसीआई बैंक एमकैप) भी 104.62 करोड़ रुपये घटकर 6,49,102.84 करोड़ रुपये रह गया।

इन कंपनियों की वैल्यू बढ़ी : शेयर बाजार में गिरावट के बावजूद जिन कंपनियों ने अपने शेयर धारकों को कमाई कराई।  हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (एचयूएल) ने उन्हें शीर्ष पर रखा।  कंपनी का बाजार पूंजीकरण 24,882.17 करोड़ रुपये बढ़कर 6,39,370.77 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।  इसके अलावा एचडीएफसी बैंक का वैल्यूएशन 13,493.73 करोड़ रुपये बढ़कर 9,09,600.11 करोड़ रुपये हो गया।  एशिया के सबसे अमीर गौतम अडानी की कंपनी ने सबसे ज्यादा कमाई तीसरे नंबर पर की है।  अदानी एंटरप्राइजेज का मार्केट कैप 8,475.91 करोड़ रुपये बढ़कर 4,55,521.65 करोड़ रुपये हो गया।

एसबीआई के निवेशकों की बल्ले-बल्ले : अडाणी की कंपनी के साथ ही देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के निवेशकों को भी तगड़ा फायदा हुआ है.  बैंक का मार्केट कैप 7,942.90 करोड़ रुपये बढ़कर 5,50,157.69 करोड़ रुपये हो गया।  इससे एचडीएफसी का बाजार मूल्य (एचडीएफसी एमकैप) 1,129.55 करोड़ रुपये बढ़कर 4,86,755.77 करोड़ रुपये हो गया।  मार्केट कैप के लिहाज से इस बार भी रिलायंस इंडस्ट्रीज टॉप पर रही।  इसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, एचयूएल, एसबीआई, एचडीएफसी, भारती एयरटेल और अदानी एंटरप्राइजेज का नाम शामिल है।

यह भी पढ़ें : Yes Bank के शेयर के निवेशको के लिए बड़ा अपडेट

Rate this post

Leave a Comment